Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

NDPS Act में फर्जी केस बनाने के आरोप में मंदसौर पुलिस के टीआई-एसआई सहित सात पुलिसकर्मियों पर कोर्ट के आदेश पर प्रकरण दर्ज

ये दूसरी घटना है, इससे पूर्व आगरा के एत्मादपुर में भी न्यायालय के आदेश पर मन्दसौर जिले के 10 पुलिसकर्मियों पर हुआ था प्रकरण दर्ज ।

मंदसौर । मंदसौर जिले के 7 पुलिस अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ न्यायालय के आदेश पर राजस्थान पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है । घटना दिनांक 25 अक्टूबर 2022 की रात 11.30 बजे की है जब मंदसौर के नारायणगढ़ थाना प्रभारी जितेन्द्र सिसौदिया, एसआई संजय प्रताप सिंह, राकेश चौधरी सहित टीम के फिजा पिता छोटे खा मेवाती निवासी ग्राम हथुनिया जिला प्रतापगढ़ राजस्थान के घर काले रंग की स्कॉर्पियो लेकर पहुंचे । उन्होंने दरवाजा खटखटाया लेकिन छोटे खां ने नही खोला । ये बिना वारंट घर मे घुसे और सारा सामान अस्त व्यस्त कर दिया । इसके बाद जितेन्द्र सिसौदिया ने बताया कि तुम्हारे भाई आसिफ ने जो ट्रक राहुल मोंगिया को बेच दिया था उसको दिनांक 25 अक्टूबर को जावरा से पकड़ा है और थाना पिपलियामंडी में रखा है । तुम्हारे भाई या आसिफ व ट्रक चालक भगवतीलाल को भी थाने पर बैठा रखा है । इस मामले को रफा दफा करने के लिए 50 लाख रूपए की मांग की गई थी ।

जेल पहुँची तो सच सामने आया
आसिफ से मिलने जब उसकी बहन जेल में गई तो उसे आसिफ ने बताया कि एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो जिसके नम्बर एमपी 09 बीसी 5500 थे । इसमें एसआई राकेश चौधरी, एएसआई अर्जुन सिंह, आरक्षक जितेंद्र मालोत नामक आरक्षक ने मुझे जावरा से 25 अक्टूबर 2022 की शाम को पकड़कर पिपलियामंडी थाने में ले जाकर बंद कर मारपीट की थी । मेरे साथ ड्राइवर भगवतीलाल को भी पकड़ा और हमे झूठा फंसा दिया । ट्रक में जीपीएस लगा हुआ था । इस घटना की सूचना प्रतापगढ़ एसपी को भी दी गई थी, लेकिन उनके द्वारा इस मामले में कोई कार्रवाई नही की गई । इसलिए परिवाद न्यायालय में लगाया गया । परिवाद के साथ प्रतापगढ़ एसपी को दी गई सूचना को सीडी व पेन ड्राइव भी कोर्ट में पेश की गई थी । जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर पुलिस थाना हथुनिया जिला प्रतापगढ़ राजस्थान में नारायणगढ़ थाना प्रभारी जितेंद्र सिसौदिया, एसआई राकेश चौधरी, एसआई संजय प्रतापसिंह, एएसआई अर्जुनसिंह सहित सात के खिलाफ 451, 330, 343, 363, 384, 389, 506 तथा 120 बी के तहत अपराध दर्ज किया है ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज