Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

छग में विष्णुदेव सहाय, मप्र में मोहन यादव के बाद अब राजस्थान में भजनलाल शर्मा को सीएम बनाकर भाजपा ने सबको चौंकाया

बड़ा सवाल – शिवराज सिंह चौहान, रमनसिंह और वसुंधरा राजे सिंधिया के साथ साथ विधानसभा चुनाव लड़े केंद्रीय मंत्री और सांसदों का क्या होगा भविष्य ?

मन्दसौर । वैसे तो भारतीय जनता पार्टी हमेशा से ही चौकानें वाले निर्णय करती रही है । लेकिन इस बार तीन राज्यो में सीएम बदलकर फिर से सबको चौकाया है ।
कल मध्यप्रदेश में विधायक दल की बैठक में उज्जैन दक्षिण के विधायक मोहन यादव को सीएम घोषित किया गया उसके बाद से ये कयास लगाए जा रहे थे कि अब राजस्थान में भी वसुंधरा राजे सिंधिया का सीएम बनना मुश्किल है ।
मप्र में शिवराज सिंह को सीएम न बनाने से राजस्थान में वसुंधरा राजे सिंधिया का दावा भी कमजोर पड़ने लगा था । लेकिन जिनका नाम सीएम की रेस में था उनमें से किसी को भी सीएम नही बनाया गया । इस बार बीजेपी ने छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान तीनो राज्यो में नए चेहरों को मौका देकर चौकाया है ।
लेकिन सबसे बड़ी बात ये है कि पार्टी ने जिन केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों को विधानसभा का चुनाव लड़वाया है अब उनका भविष्य क्या होगा ?
इसके अलावा तीनो राज्यो में पूर्व मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह शिवराजसिंह चौहान और वसुंधरा राजे को आगे पार्टी कोई जिम्मेदारी देगी या साइड लाइन कर देगी ये देखने वाली बात होगी ।
जिस प्रकार छत्तीसगढ़ में बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव सहाय, मध्यप्रदेश में तीन बार के विधायक रहे मोहन यादव और राजस्थान में सांगानेर से पहली बार के विधायक भजनलाल शर्मा को सीएम बनाया है उससे भाजपा कार्यकर्ताओं में पार्टी ने जोश भरने का काम किया है । क्योंकि अंतिम पंक्ति के व्यक्ति को कब पार्टी अग्रिम पंक्ति में ले आये ये अनुमान लगाना मुमकिन है ।
साथ मे दो-दो डिप्टी सीएम और स्पीकर
मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री मोहन यादव के साथ दो उप मुख्यमंत्री भी बनाए गए है । जिनमे मल्हारगढ़ के विधायक जगदीश देवड़ा और राजेन्द्र शुक्ल को उप मुख्यमंत्री और नरेंद्र सिंह तोमर को स्पीकर बनाया । इसी प्रकार राजस्थान में दीया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा को उप मुख्यमंत्री और वासुदेव देवनानी को स्पीकर बनाया है ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज