Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

गरोठ में माधव रेसीडेंसी और सिद्धालय नामक अवैध कॉलोनी काटने वालों के विरूद्ध कलेक्टर ने दिया एफआईआर दर्ज करने का आदेश

पत्रकार योगेश पोरवाल, गरोठ निवासी बलराम ग्वाला, राकेश पाटीदार, प्रह्लाद सिंह की शिकायत पर करीब दो साल चली जांच के बाद हुई कार्रवाई

मंदसौर । कृषि भिन्न आशय की भूमियों पर बिना सक्षम अधिकारियों की अनुमति के छोटे छोटे भूखंड काटकर उन्हें विकसित कॉलोनियों बताकर जनता को भ्रमित करके भूखण्ड बेचने वाले लोगों पर करीब दो साल चली जांच के बाद कलेक्टर दिलीप कुमार यादव ने दिनांक 28/11/2023 को एक आदेश पारित कर गरोठ में अवैध कॉलोनी काटने वालो के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवाने के लिए नगरपरिषद सीएमओ को निर्देशित किया है ।
वर्ष 2021 में गरोठ नगर में नगरपरिषद कार्यालय और एसडीओपी कार्यालय के पास ही राहुल पाटीदार और दीपा पाटीदार द्वारा माधव रेसीडेंसी नामक एक अवैध कॉलोनी का निर्माण कर छोटे छोटे भूखण्ड काटकर विक्रय कर दिए गए । इस कृत्य की शिकायत तत्कालीन एसडीएम आरपी वर्मा को हुई जिसके बाद श्री वर्मा ने एक जाँच दल का गठन किया जिसमें तहसीलदार, आरआई, पटवारी और नगरपरिषद सीएमओ शामिल थे । जाँच के बाद जाँच दल ने पाया था कि मौके पर बाउंड्रीवाल, सड़क और नाली निर्माण का कार्य किया जा रहा है जिससे ये स्पष्ट हो चुका था कि कॉलोनी अवैध है । इसके बाद नगरपरिषद गरोठ के तत्कालीन सीएमओ ने भी यह लिखित में दिया था कि माधव रेसीडेंसी और सिद्धालय नामक कॉलोनी को नगरपरिषद ने कोई निर्माण अनुमति जारी नही की है । एसडीएम आरपी वर्मा की पदोन्नति के बाद दूसरे एसडीएम आए और अवैध कॉलोनियों पर चल रही कार्रवाई ठंडे बस्ते में चली गई । फिर शिकायतकर्ताओं के आवेदन पर नगरपरिषद गरोठ ने कलेक्टर को प्रकरण पेश कर बताया कि अवैध कॉलोनी पर कार्रवाई हमारे क्षेत्राधिकारी में नही है इसलिए आगे की कार्रवाई के लिए आपकी ओर प्रकरण प्रस्तुत है ।
इस प्रकरण में लंबे समय तक सुनवाई हुई । इस बीच माधव रेसीडेंसी के अशोक उर्फ राहुल पाटीदार ने नगर तथा ग्राम निवेश कार्यालय से अनुमित प्राप्त कर ली, कॉलोनाइजर लायसेंस प्राप्त कर लिया ताकि कार्रवाई से बच जाए । इसी प्रकरण में एक अन्य मामला ये सामने आया कि माधव रेसीडेंसी न केवल अवैध बल्कि पाटीदार समाज को कन्या छात्रावास हेतु दान में दी गई भूमि पर काट दी गई है । जिसको लेकर जमीन दान करने वाले परिवार ने तत्कालीन एसपी सुनील पांडे से मिलकर भूमाफिया राहुल पाटीदार के विरूद्ध एफआईआर भी दर्ज करवाई थी ।
उक्त प्रकरण में कलेक्टर ने दिनांक 28/11/2023 को नगरपरिषद सीएमओ को एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश देते हुए तीन दिवस में पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज