Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

रामबाग के राजा केदारनाथ मंदिर की थीम पर विराजेंगे

10 दिवसीय गणेशोत्सव होगा आज से प्रारंभ
चौपाटी चौराहा, तिलक नगर के साथ रामबाग में होगें बड़े आयोजन

दशपुर दिशा । दीपक सोनी
जावरा । भगवान भोलेनाथ की भक्ति के सावन मास की समाप्ती के बाद अब मंगलवार से क्षैत्र में गणेशोत्सव की धूम रहेगी । श्रृद्धालुओं ने मंगलवार को घटस्थापना करने के लिए विध्नहर्ता की मुर्तियॉ अपनी शक्ति अनुसार खरीदी। विध्नहर्ता की बाजार में कलात्मक मूर्तियां बिकने के लिए आई । पिछले वर्ष के मुकाबले ही इस बार दाम अधिक रहे है । लोग उत्साह से खरीदकर घटस्थापना करने के लिए तैयार है । मंगलवार को नगर के श्रृद्धालुओं के साथ ही शासकीय और अद्धशासकीय संस्थाओं में भी गजानंद की स्थापना होगी, जो 10 दिनों तक चलकर अनंत चतुर्दशी के दिन विसर्जित होगी । शहर में कई स्थानों पर गणेश उत्सव के सार्वजनिक आयोजन किए जाते है । कई जगह इन 10 दिनों के अंतर्गत विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं प्रतियोगिताए भी आयोजित की जाएगी ।
चौपाटी पर 15 फीट के राजा की होगी स्थापना
ज्वाला श्री गणेश उत्सव समिति द्वारा 12 वे वर्ष में गणेशोत्सव मनाया जाएगा। इसके तहत मंगलवार को चौपाटी के राजा की मुर्ति की स्थापना की जाएगी। प्रतिदिन रात्रि में विध्नहर्ता की महाआरती होगी। संस्था के विक्रमसिंह यादव, राकेश राठौर, विकास पंवार, बंटी सैनी, अमन राव, गौतम राठौर, विजय चौहान, सनी बाथम ने बताया कि चौपाटी स्थित गांधी उद्यान के बाहर समिति द्वारा दस दिवसीय गणेशोत्सव मनाया जा रहा है। संस्था के शैलेन्द्रसिंह चौहान ने बताया 15 फीट की गंगा नदी की मिट्टी से कलकत्ता के कारीगरों द्वारा बनाई गई प्रतिमा की स्थापना आज शुभ मूहुर्त में होगी। प्रतिदिन रात 8.30 बजे महाआरती के साथ प्रसादी वितरण किया जाएगा। तिलक नगर बगीचे में इस वर्ष भी विनायक ग्रुप द्वारा नौवे वर्ष गणेशोत्सव मनाया जाएगा। ग्रुप के पवन सोनी ने बताया 15 फीट गजानंद की स्थापना की जाएगी। रात्री में प्रतिदिन 8.30 बजे महाआरती की जाएगी ।

केदारनाथ थीम पर विराजेगे रामबाग के राजा
रामबाग मेें संंस्था कर्तव्य द्वारा रामबाग के राजा की स्थापना की जाएगी । रामबाग के राजा के लिए इस बार 3 हजार स्क्वेयर फीट में केदारनाथ थीम पर पंडाल सजाया गया है । जो श्रृद्धालुओं को केदारनाथ मंदिर की याद दिलाएगा । कलकत्ता के कारीगर लगभग 25 दिनों से 70 फीट ऊंचा पंडाल तैयार करने में जुटे हुए है । जिसमें सिर्फ बांस और कपड़े की रस्सीयों का ही उपयोग किया गया है । इस बार रामबाग के राजा की शिव स्वरूप 10 फीट की मिट्टी की प्रतिमा विराजित होगी । मिट्टी की गणेश प्रतिमा के साथ सब कुछ इको फ्रेंडली होगा । संस्था कर्तव्य अध्यक्ष सौरभ पगारिया, कार्यक्रम संयोजक आगम पाटनी ने बताया कि केदारनाथ मंदिर में शिव स्वरूप पींड की स्थापना होगी । इस दौरान प्रतिदिन धार्मिक आयोजन भी होगे तथा प्रतिदिन रात में महाआरती होगी । संस्था द्वारा नौवे वर्ष भी रामबाग के राजा की स्थापना कर रही है ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज