Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

अल्पवर्षा के कारण जिले में सूखे के हालात, किसान आत्महत्या मामले में पीडित परिजनो से की मुलाकात

मंदसौर । जिले में लगातार सुखे की स्थिति निर्मित होती जा रही है । अल्पवर्षा के कारण अन्नदाता किसानो की खरीफ फसल जिसमें सोयाबीन, मक्का आदी फसले लगभग चौपट हो चुकी है । इस बीच विगत 5 सितम्बर को सुवासरा विधानसभा के ग्राम बडोद के किसान जगदीश धनगर द्वारा सोयाबीन फसल के खराब हो जाने एवं बकाया कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या कर ली । जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विपिन जैन के निर्देशन में जिला कांग्रेस प्रभारी महामंत्री सुरेश भाटी, अजा विभाग जिलाध्यक्ष संदीप सलोद, जिला कांग्रेस महामंत्री कमलेश जैन, सेक्टर अध्यक्ष गोपाल राठौर ने घटना के उपरांत परिजनो के बीच पहुंच घटना पर दुख प्रकट करते हुये जानकारी ली ।
श्री भाटी ने घटना पर दुखद बताते हुये कहा कि मंत्री हदीपसिंह डंग के क्षेत्र में कृषक द्वारा आत्महत्या किये जाने के मामले में मंत्री द्वारा अब तक परिजनो की सुध नही ली गयी है । उन्होनें कहा कि यह सिर्फ मात्र एक घटना नही है बल्कि आने वाले समय में हालात ओर भी विकट होने के संकेत है । खरीफ फसल लगभग चौपट हो चुकी है, पानी की कमी के कारण आने वाली रबी सीजन की फसल भी ना के बराबर होगी जिसके चलते किसानो की आर्थिक हालत खराब हो चुकी है जिसका असर पुरे जिले की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा ।
मृतक परिजनो को मिले पर्याप्त सहायता, तत्काल बीमा कंपनी को निर्देश जारी हो परिजनो से चर्चा के बाद कांग्रेस नेताओं ने सीतामऊ विकासखंड के अधिकारियो से घटना की गंभीरता को देखते हुये परिजनो को उचित सहायता देने की मांग की है । कांग्रेस नेताओं ने कहा कि किसान द्वारा आत्हत्या के मामले में परिजनो को पर्याप्त सहायता मिले। इसके साथ ही किसानो की खरीफ फसल की दुर्गति को देखते हुये या तो राजस्व संहिता के तहत शासन पीडित किसानो के लिये राहत पैकेज जारी करे या फिर बीमा कंपनी को क्लेम देने हेतु निर्देश प्रदान किये जिससे किसान कुछ हद तक संकट से उभर सके ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज