Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

सरकार व विश्वविद्यालय की कार्यप्रणाली से छात्रों का भविष्य अंधकार में – श्री लाड

मंदसौर । मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए रोजाना नई-नई घोषणाएं कर जनता से वोट बटोरने के प्रलोभन दे कर प्रदेश के युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ कर रही है ।
उक्त आरोप जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता श्री राजनारायण लाड ने प्रदेश की भाजपा समर्थित सरकार पर लगाया है । श्री लाड ने आगे बताया कि प्रदेश की सरकार व विश्वविद्यालय की कार्यप्रणाली से जीएनएम के 40 हजार बच्चों की परीक्षा नहीं हो पा रही है । यह बच्चे कॉलेज के चक्कर काट रहे हैं और बच्चों का भविष्य अंधकार में दिख रहा है । एमपी टास्क पोर्टल पर नर्सिंग का रिकॉर्ड अब तक लोड नहीं किया गया जिसकी वजह से छात्र 2021-22, 2022-23 सत्र के एससी, एसटी व पिछड़ा वर्ग के बच्चे छात्रवृत्ति आवेदन करने से वंचित रह गए उनको जो आर्थिक हानि हुई उसका जिम्मेदार कौन..? वही प्रदेश के कितने जीएनएम नर्सिंग के छात्र प्रभावित हुए होंगे इससे अंदाजा लगाया जा सकता है । इसी माह कि 7 जुलाई को जीएनएम की 2022-23 सत्र की प्रवेश परीक्षा ली गई जिसमें 60 हजार बच्चों ने परीक्षा दी जबकि 2022-23 का सेशन खत्म हो चुका है । साथ ही 2020-21, 2021-22, 2022-23 सत्र की परीक्षाएं रुकी पड़ी है जिस पर कोर्ट का स्टे मिला हुआ है । श्री लाड ने कहां की राज्य सरकार के इसी रवैये के चलते आने वाले विधानसभा चुनाव में मध्यप्रदेश के युवा इस सरकार को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाएगा ।

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज