Dashpurdisha

Search
Close this search box.

Follow Us:

छात्रा से मारपीट के बाद हुआ खुलासा : शासकीय शिक्षिका दे रही निजी स्कूल शाइनिंग स्टार में सेवाएं

★शाइनिंग स्टार स्कूल की शिक्षिका श्वेता बैरागी ने कक्षा सातवीं की छात्रा के साथ की मारपीट, पत्रकारों को समाचार प्रकाशित न करने के लिए मिल रही बार-बार धमकियां

जावद । नगर का शाइनिंग स्टार स्कूल में एक शासकीय शिक्षिका सेवाएं दे रही है । इस बात की पोल तब खुली जब एक छात्रा के साथ शिक्षिका ने मारपीट की घटना को अंजाम दिया । इस घटना का जब अभिभावकों ने विरोध किया तो स्कूल व्हाट्सएप ग्रुप से उन्हें बाहर कर दिया ।
आपको बता दें स्कूल की मासूम छात्रा के साथ शिक्षिका श्वेता बैरागी द्वारा मारपीट की गई, कई थप्पड़ों से बालिका के दांत में दर्द होने के साथ ही बुखार आ गया । मारपीट से छात्रा भयभीत हो गई । उसके बाद बालिका द्वारा अपने परिजनों को बताया गया । बालिका के परिजनों ने अपनी एक परिचित महिला पत्रकार को अपनी पीड़ा बताई । जिसके बाद महिला पत्रकार स्वयं शाइनिंग स्टार स्कूल में गई और शिक्षिका श्वेता बैरागी को स्वयं शाईनिग स्टार स्कूल के बच्चों को रिसीव करते देखा ।जबकि उस समय 12 से 12:30 का समय रहा होगा, चूंकि श्वेता बैरागी शासकीय है उस समय उन्हे अपने शासकीय विद्यालय मै होना चाहिये था ।

स्कूल में है कई अनियमितताएं
छात्रा की मारपीट के मामले के बाद प्रकाश में आया की स्कूल में अनगिनत अनियमितताएं है । स्कूल भवन किराए की बिल्डिंग में चल रहा जहां पर ना खेल मैदान है न लाइब्रेरी के नाम पर कुछ उपलब्ध है ।किताबे और ड्रेस स्कूल से दी जाती है और उसकी मनमानी कीमत वसूली जाती है । जावद में पदस्थ शासकीय शिक्षिका भी इस स्कूल में सेवाए देती है जो नियम विरुद्ध है । इस बात को स्कूल की प्रिंसिपल खुद स्वीकार भी करती है की सुबह श्वेता बैरागी स्कूल आती है ।
स्कूल जिस भवन में संचालित हो रहा है वह एक धर्मशाला है । जो सारस्वत पंचायत भवन के नाम से जाना जाता है । इस भवन में शादी विवाह आदि का कोई कार्यक्रम हो तो स्कूल की छुट्टी करना रख दी जाती है ।

ख़बर न छापने के लिए धमकाया जा रहा
जब स्कूल प्रबंधन/प्राचार्य से सवाल पूछे गये उसके बाद से समाचार प्रकाशित न करने के लिए स्कूल की संचालिका एवं उनके परिजनों द्वारा जो पत्रकार स्कूल में गए थे, उन पर लगतार दबाव बनाया जा रहा है । उन्हें डराया धमकाया भी जा रहा है, साथ ही रिश्वत देने की कोशिश भी की गई रिश्वत लेने से इंकार करने और खबर सही है एवं कुछ भी हो लगेगी ऐसा कहने पर गलत प्रकार की टिप्पणी की जा रही है ।

यह कहना है इनका
★मै अपने नाना जी के यहा गई हुई थी तो मेरा कुछ वर्क बाकी रह गया था । मै अपना बाकी का कार्य कर रही थी सोशल साइंस वाली मैडम के आने में समय था । इसी बीच श्वेता बैरागी मैडम आई और बिना मेरी सुने मेरे साथ मारपीट की जिससे मैं बहुत भयभीत और बीमार हो गई – छात्रा

★मैं 11:00 बजे स्कूल आती हूं । इससे पूर्व श्वेता स्कूल आती और बच्चों को पढ़ाती है । उसका ड्यूटी टाइम 10:00 बजे से है यह उसका निजी स्कूल है, इसलिए वह आती है । बच्चे के साथ मारपीट की जानकरी मुझे नही है, मै 11:00 बजे बाद में स्कूल आई थी ।अगर श्वेता ने बच्ची पर हाथ उठाया है या उसके साथ मारपीट की है तो मैं उसे स्वयं डाटूंगी – प्राचार्य शाइनिंग स्टार स्कूल

★आपके द्वारा मेरे संज्ञान में यह बात लाई गई है यदि कोई शासकीय शिक्षक किसी निजी विद्यालय में पढ़ाता है या ट्यूशन भी करता है तो यह नियम विरुद्ध है । मारपीट करना कानूनन अपराध भी है । यदि स्कूल एक दुकान को सिलेक्ट कर उसी से आपको पुस्तके और ड्रेस लेने को बाध्य करता है तो यह सरासर गलत है । इस पर विभागीय कार्यवाही जाएगी – मुकेश जैन, संकुल प्राचार्य जावद

★यदि हमारा शासकीय शिक्षक स्वयं के निजी स्कूल में जाकर भी कार्य कर रहा है तो उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी । यदि बच्चे के साथ मारपीट की गई है तो निंदनीय है पालक शिकायत करेंगे तो सख्त कार्यवाही की जाएगी- सीके शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी नीमच

Admin
Author: Admin

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज